Sunday, July 21, 2019
Home > राष्ट्रीय > चुनाव 2019 में 283 सीटों पर महिला उम्मीदवार उतारेंगी NWP और AIWUP

चुनाव 2019 में 283 सीटों पर महिला उम्मीदवार उतारेंगी NWP और AIWUP

संवाददाता (दिल्ली) एनडब्ल्यूपी और एआईडब्ल्यूयूपी पार्टी की सभी सदस्य महिलाएं, सरकार से 9 मार्च को इंडिया वुमन डे घोषित करने की मांग की दोनों पार्टियों ने राजनैतिक गठबंधन कर सत्ता में 50फीसदी हिस्सेदारी की मांग उठाई कोट-इस समय भारत की 545 सदस्यों की संसद में केवल 11 फीसदी महिलाएं हैं। हम संसद में महिलाओं को 50 फीसदी आरक्षण दिलाना चाहते हैं। हर महिला को महिला अपराध जैसे रेप और शारीरिक त्पीड़न से सुरक्षित रहने का अधिकार है। हर महिला को आत्मनिर्भर बनने का हक है। हर महिला पर्याप्त चिकित्सा सुविधाएं और आर्थिक स्थिरता चाहती हैं। हम महिलाओं को उनका हक दिलाएंगे- श्वेता शेट्टी,एनडब्ल्यूपी की अध्यक्ष श्वेता शेट्टी

-आगामी लोकसभा चुनाव में 283 सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारने का फैसला किया है। 13 मार्च को दोनों पार्टियां संयुक्त रूप से जंतर मंतर से इंडिया गेट तक महिलाओं का मार्च निकालेंगी- नसीम बानो, ऑल इंडिया वुमन यूनाइटेड पार्टी की अध्यक्षने शनल वुमन पार्टी (एनडब्ल्यूपी) और ऑल इंडिया वुमन यूनाइटेड पार्टी (एआईडब्ल्यूयूपी) ने आगामी लोकसभा चुनाव के लिए गठबंधन किया है। 2019 में होने वाले लोकसभा चुनाव में दोनों पार्टियों ने गठबंधन में 50फीसदी सीटों पर संयुक्त रूप से चुनाव लड़ने का फैसला किया है। नेशनल वुमन पार्टी और ऑल इंडिया वुमन यूनाइटेड पार्टी संयुक्त रूप से लोकसभा की 283 सीटों पर चुनाव लड़ेगी। खास बात यह है कि इन दोनों पार्टियों की सदस्य महिलाएं ही हैं। एनडब्ल्यूपी की अध्यक्ष श्वेता शेट्टी ने कहा कि इस समय भारत की 545 सदस्यों की संसद में केवल 11 फीसदी महिलाएं हैं। हम चाहते हैं कि संसद में महिलाओं की भागीदारी 50 फीसदी हो। तभी महिलाओं को रेप और शारीरिक उत्पीड़न से सुरक्षित रहने का अधिकार  मिलेगा, तभी वह आत्मनिर्भर बन पाएंगी और उन्हें आर्थिक स्थिरता और पर्याप्त चिकित्सा सुविधाएं मिल पाएंगी। ऑल इंडिया वुमन यूनाइटेड पार्टी की अध्यक्ष नसीम बानो ने कहा कि 13 मार्च को एनडब्ल्यूपी और एआईडब्ल्यूयूपी संयुक्त रूप से जंतर मंतर से इंडिया गेट तक महिलाओं का मार्च निकालेंगी। हमने केंद्र सरकार से 9 मार्च को इंडियन वुमन डे घोषित करने की मांग की है। संसद में राजनैतिक अधिकार मिलने से ही महिलाओं की आर्थिक और राजनैतिक स्थिति सुधरेगीएनडब्ल्यूपी की अध्यक्ष श्वेता शेट्टी ने कहा कि अमेरिका की दशकों पुरानी नैशनल वुमंस पार्टी से प्रेरित होकर हमने सिर्फ महिलाओं के लिए इस पार्टी की शुरुआत की। इस पार्टी  का मकसद संसद में महिला आरक्षण और कार्यस्थल पर महिलाओं के उत्पीड़न जैसे मुद्दों के खिलाफ लड़ाई लड़ना है। उन्होंने कहा कि हम जात-पात और धर्म का भेदभाव किए बिना पार्टी में शामिल होने वाली हर महिला का स्वागत करते हैं। हम देश के विकास में महिलाओं को समान रूप से भागीदार बनाना चाहते हैं। ऑल इंडिया वुमन यूनाइटेड पार्टी की अध्यक्ष नसीम बानो ने कहा कि दोनों पार्टियों की सभी सदस्य महिलाएं ही हैं। इन दोनों पार्टियों ने  आगामी लोकसभा चुनाव में 283 सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारने का फैसला किया है। 13 मार्च को दोनों पार्टियां संयुक्त रूप से जंतर मंतर से इंडिया गेट तक महिलाओं का मार्च निकालेंगी।

एनडब्ल्यूपी की अध्यक्ष श्वेता शेट्टी ने कहा कि महिलाएं आजकल समाज के कई क्षेत्रों में अपनी उपलब्धि प्रभावशाली ढंग से दर्ज करा रही है। समाज में बदलाव लाने  के लिए महिलाओं की राजनीति में भागीदारी बहुत जरूरी है। हमारी पार्टी की सभी सदस्य महिलाएं हैं। जिस पार्टी से हमने गठबंधन किया, उसकी भी सभी सदस्य महिलाएं ही हैं। हमें आशा है कि हमारी पार्टियां राजनीति में महिलाओं की भागीदारी के संबंध में क्रांति लाएंगी। एनडब्ल्यूपी की अध्यक्ष श्वेता शेट्टी एमबीबीएस डॉक्टर और सामाजिक कार्यकर्ता हैं।

एनडब्ल्यूपी की अध्यक्ष श्वेता शेट्टी ने कहा कि हम लोकसभा चुनाव 2019 में उतरकर समाज की विचारधारा में बदलाव लाने के लिए बिल्कुल तैयार है। हमारी पार्टी का गठन 18 दिसंबर 2018 को नई दिल्ली में किया गया था। एनडब्ल्यूपी को सभी राज्यों की 15लाख से अधिक महिलाओं का समर्थन हासिल है। उनका कहना है कि हमारी पार्टी का लक्ष्य सिस्टम के हाथों सताई गई महिलाओं को इंसाफ दिलाना है। एनडब्ल्यूपी की सदस्यों में पूर्व राष्ट्रपति आर. वेंकटरमन की बेटी पद्मा वेंकटरमन,  भारत के पूर्व प्रधानमंत्री पी. वी, नरसिम्हा राव  की बेटी वाणी दयाकर, भारत के पूर्व राष्ट्रपति वी. वी. गिरि की बहू मोहिनी, क्रिकेटर रविंद्र जडेजा की बहन नैना जड़ेजा और तमिलनाडु की पूर्व मुख्यमंत्री जे. जयललिता की बायोपिक में जयललिता का रोल निभाने वाले अभिनेत्री नित्या मेनन शामिल है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *