Tuesday, April 23, 2019
Home > राष्ट्रीय > सीड्स द्वारा संकलित रिपोर्ट ‘फेस ऑफ डिजास्टर’ के अनुसार पानी से संबंधित आपदाएँ बढ़ रही हैं

सीड्स द्वारा संकलित रिपोर्ट ‘फेस ऑफ डिजास्टर’ के अनुसार पानी से संबंधित आपदाएँ बढ़ रही हैं

संवाददाता (दिल्ली) सस्टेनेबल एनवायरनमेंट एंडइकोलॉजिकल डेवलपमेंट सोसाइटी) ने उद्योग के दिग्गजों और विचारशील नेताओं के बीच अपनी व्यापक फेस ऑफडिजास्टर्स ’रिपोर्ट जारी की, जो आपदाओंकी बदलती प्रकृति और रोजमर्रा के जीवनपर उनके प्रभाव की जटिलता को दर्शाती है। फेस ऑफ डिजास्टर्स, 2019 की यह रिपोर्ट इस मुद्दे पर एक व्यापक दृष्टिकोण प्रस्तुत करती है, जिसमें जोखिम के रुझान,साक्षात्कार और अनुभवों के आधार पर आपदा के विविध रूप प्रस्तुत किए गए हैं।

2018 में, भारत ने बड़ी भूकंप और संबंधितघटनाओं को छोड़कर लगभग हर प्रकार के प्राकृतिक खतरे को देखा है। बाढ़, सूखा, गर्मीऔर शीत लहरें, बिजली गिरना, चक्रवात और यहां तक कि ओलावृष्टि, आपदाओं की एक विस्तृत श्रृंखला ने देश के अधिकांश भाग को प्रभावित किया है। फिर भी, इनमें से कुछ ने ही राष्ट्रीय ध्यान आकर्षित किया है। यह रिपोर्ट कुछ महत्वपूर्ण सवाल और मुद्दों को प्रस्तुत करती है और आगे होने वाले जोखिमों की ओर भी इशारा करती है। मूल में यह विचार है कि आपदाओं को अब अलग रख कर नहीं देखा जा सकता है।

अपनी 25 वीं वर्षगांठ के अवसर पर सीड्स द्वारा जारी फेस ऑफ डिजास्टर्स 2019 की रिपोर्ट में पिछले रुझानों का विश्लेषण किया गया है, ताकि उनके विविध पहलुओं को समझकर आपदाओं को एक व्यापक दृष्टिकोणसे देखा जा सके। आठ प्रमुख क्षेत्र सामने आए हैं, जिन पर विचार करना महत्वपूर्ण होगा जोकि हम आगे देखेंगे।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *