Friday, December 13, 2019
Home > राष्ट्रीय > हाई – टेक सॉ ने गुजरात में सालाना 60 हजार मीट्रिक टन की उत्पादन क्षमता का स्पाइरल सॉ स्टील पाइप प्लांट लगाया

हाई – टेक सॉ ने गुजरात में सालाना 60 हजार मीट्रिक टन की उत्पादन क्षमता का स्पाइरल सॉ स्टील पाइप प्लांट लगाया

संवाददाता (दिल्ली) हाई-टेक सॉ प्राइवेट लिमिटेड के प्रमोटर्स ने तीन दशकों की समृद्ध विरासत को आगे बढ़ाते हुए गुजरात के साणंद में स्पाइरल सॉ स्टील पाइप्स (एच-सॉ पाइप) का अत्याधुनिक प्लांट लगाया है। इस प्लांट की क्षमता सालाना 60 हजार मीट्रिक टन स्पाइरल सॉ स्टील पाइप्स के उत्पादन की है।

कंपनी के निदेशक श्री विपुल बंसल ने कहा, “ स्पाइरल सॉ वेल्डेड ट्यूब का प्रयोग देश के जल परिवहन क्षेत्र में किया जाता है। इस ट्यूब का प्रयोग तेल और गैस सेक्टर में ऊर्जा को इधर से उधर भेजने के लिए किया जाता है। इसका इस्तेमाल रिफाइनरी और पेट्रोकेमिकल्स में उच्च तापमान और दबाव बनाए रखने के लिए भी किया जाता है। तेल और गैस की खोज में कंडक्टर केसिंग के लिए इसका प्रयोग होता है। इसके अलावा कृषि क्षेत्र और निर्माण उद्योग में भी इसका इस्तेमाल किया जाता है।

हाईटेक सॉ पाइप्स ने अपने गुणवत्ता मानकों के स्तर को और ऊपर उठाया है। कंपनी पाइप के निर्माण में राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय दोनों मानकों पर खरी उतर रही है।

स्पाइरल सॉ स्टील पाइप का बाहरी व्यास 400 मिलीमीटर से 1600 मिलिमीटर तक होता है। हाईटेक पाइप ने तेल और गैस परिवहन के क्षेत्र में देश की बढ़ती जरूरतों को ही पूरा नहीं किया है, बल्कि विभिन्न उद्योगों से संबंधित उपभोक्ताओं को समय-समय पर आने वाली विभिन्न चुनौतियों से निपटने में मदद दी है।

हाईटेक कंपनी की ओर से अपनाए गए टॉप क्वॉलिटी स्टैंडडर्स में बीते वर्षों में कंपनी को भीड़ से अपना अलग मुकाम बनाने में मदद मिली है, बल्कि इससे सर्वश्रेष्ठ स्पाइल सॉ स्टील पाइप के निर्माण में कंपनी दूसरी कंपनियों से आगे निकल गई है। इस नए प्लांट से प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप से 200 से ज्यादा लोगों के लिए रोजगार का सृजन होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *