Tuesday, February 25, 2020
Home > मनोरंजन > बिंती की स्क्रीनिंग से स्माइल इंटरनेशनल फिल्मोत्सव की हुई शुरुआत

बिंती की स्क्रीनिंग से स्माइल इंटरनेशनल फिल्मोत्सव की हुई शुरुआत

संवाददाता (दिल्ली) स्माइल इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल फॉर चिल्ड्रेन एंड यूथ (एसआईएफएफसीवाई) के पांचवें संस्करण का आगाज हो गया। महोत्सव की शुरुआत बुकएस्माइल द्वारा समर्थित स्माइल इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल फॉर चिल्डेन एंड यूथ का पांचवा संस्करण बेल्जियाई फीचर फिल्म बिंती की स्क्रीनिंग से हुई। महोत्सव का उद्घाटन नई दिल्ली स्थित सीरी फोर्ट ऑडिटोरियम में स्माइल फाउंडेशन के ट्रस्टी व कार्यकारी अधिकारी सांतनु मिश्रा और महोत्सव निर्देशक जितेंद्र मिश्रा की मौजूदगी में हुआ। बिंती फिल्म निर्माता फ्रेडरिक मिगॉम की यह पहली फिल्म है। फिल्म बेल्जियम के कान्गो में रह रही 12 किशोरी की कहानी पर आधिरत है जिसं ब्लॉगिग का शौक है। वह प्रख्यात होना चाहती है। लेकिन जब पुलिस उसके घर पर छापा मारती है तो उसका सपना टूट जाता है। बिंती पुलिस से बचने के लिए इलियास से मिलती है और फिर उनकी दोस्ती है जाती है। बिंती जहां सेव-द-औकापी-क्लब के बारे में ब्लॉग के लिए इलियास की मदद करती है। वहीं वह पिता द्वारा इलियास की मॉम से शादी करने की योजना से जूझना पड़ता है। बिंती एक प्रवासी पिता और पुत्री की भावनात्मक कहानी है।

फेस्टिवल के निर्देशक जितेन्दर मिश्रा ने कहा दुनिया मे 25 करोड़ से ज्यादा प्रवासी है, जो वैश्विक आबादी के 3.5 प्रतिशत है। यह अगली पीढी के लिए महत्वपूर्ण विषय है। उन्होंने कहा कि इस संस्करण में 25 हजार बच्चे सात दिनों तक भाग लेंगे। फेस्टिवल में 36 फिल्में दिखाई जाएगी जिनमें 10 भारतीय हैं। कार्यक्रम को लेकर सांतनु मिश्रा ने उम्मीद जताते हुए कहा कि इससे बच्चों और युवाओं तक दुनिया का सर्वश्रेष्ठ सिनेमा पहुंचेगा और नए वैश्विक सहयोगों का उनके मन-मस्तिष्क पर अच्छा प्रभाव पड़ेगा। उन्होंने कहा, “एसआईएफएफसीवाई के पीछे हमारा उद्देश्य इंफोटेशन (सूचना व मनोरंजन) उद्योग में दिलचस्पी बढ़ाना और इसके समर्थन के लिए प्रभावशाली फिल्म कार्यक्रमों का मिश्रण तैयार करना है। हम हर साल फिल्म स्क्रीनिंग के अलावा बच्चों और युवाओं को शिक्षित और सशक्त बनाने के उद्देश्य से विभिन्न प्रकार की फिल्म-निर्माण कार्यशालाओं का भी आयोजन करते हैं। एसआईएफएफसीवाई विभिन्न प्रकार की कार्यशालाओं की मेजबानी में ‘टेक वन’ नामक एक विशेष कार्यक्रम का भी आयोजन करता है। हमारा उद्देश्य यह है की बच्चों और युवाओं को ज्ञानयुक्त सम्मलेन के माध्यम से संवेदनशील बनाया जाए, ताकि उनके मन में स्थाई प्रभाव का भी संचार हो सके।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *