Friday, November 27, 2020
Home > राष्ट्रीय > ए.के. भागी बने एनडीटीएफ के अध्यक्ष

ए.के. भागी बने एनडीटीएफ के अध्यक्ष

संवाददाता (दिल्ली) दिल्ली विश्वविद्यालय में शिक्षकों के हित में निरन्तर कार्यरत नेशनल डेमोक्रेटिक टीचर्स फ्रंट (एनडीटीएफ) की नई कार्यकारिणी घोषित हो गई है। राष्ट्रवादी विचारधारा के साथ शिक्षक हितों की रक्षा के लिए प्रयासरत संगठन की बागडोर एक बार फिर से डॉ. ए.के. भागी को सौंपी गई है। इसके साथ-साथ संगठन में नई कार्यकारिणी के अंतर्गत महासचिव, उपाध्यक्षों, सचिवों व कोषाध्यक्ष की भी घोषणा की गई है।
डॉ. ए.के. भागी ने अध्यक्ष पद पर नियुक्ति के बाद स्पष्ट कर दिया है कि शिक्षकों के मान-सम्मान, अस्मिता व हितों की रक्षा के लिए लगातार संघर्ष जारी रहेगा। उन्होंने कहा कि दिल्ली विश्वविद्यालय में नई नियुक्तियों का विषय हो या फिर पदोन्नित व तदर्थ शिक्षकों के समायोजन का विषय, संगठन पूर्व की तरह ही शिक्षक हित में अपनी कोशिशें जारी रखेगा। इतना ही नहीं उन्होंने सेवा निवृत शिक्षकों के हितों को ध्यान में रखते हुए संघर्ष जारी रखने की घोषणा की। डॉ. भागी ने कहा कि नई शिक्षा नीति की उपलब्धियों को स्वीकारने के साथ-साथ जहां भी आवश्यक है, संशोधनों के लिए भी प्रयास किए जायेंगे।

नई कार्यकारिणी के गठन से संबंधित संगठन की इस बैठक में भारतीय भूभाग की रक्षा में अदम्य साहस दिखाते हुए अपने प्राणों को न्यौछावर कर देने वाले वीर सैनिकों के सम्मान में श्रद्धांजलि अर्पित की गई। इस अवसर पर दिल्ली विश्वविद्यालय से जुड़े 70 प्राध्यापकों ने ऑनलाइन मीटिंग में शांति मंत्र का जप करते हुए दो मिनट का मौन रखकर वीरगति को प्राप्त जवानों के प्रति सम्मान प्रकट किया। बैठक में सीमा पर चीन की सैन्य हरकतों के प्रति विरोध व निंदा प्रस्ताव पारित करते हुए एनडीटीएफ कार्यकारिणी में शपथ ली गई कि चीन में बने सामान व उत्पादों का पूरी तरह बहिष्कार किया जायेगा। निवर्तमान अध्यक्ष डॉ. राकेश कुमार पांडे, डॉ. इंद्र कपाही, डॉ. एन. के. कक्कड़ और श्री राजेश गोगना व कालेजों व विभागों के विभिन्न शिक्षक प्रतिनिधियों की बैठक में नई कार्यकारिणी की नियुक्ति का निर्णय किया गया। इस कार्यकारिणी में डॉ. ए.के. भागी की टीम में महासचिव के रूप में डॉ. वी.एस. नेगी, उपाध्यक्ष के रूप में डॉ. प्रद्युम्न कुमार, डॉ. वीरेंद्र भारद्वाज, डॉ. सलोनी गुप्ता व डॉ. बिजेंद्र कुमार तथा सचिव के रूप में डॉ. के. पी. सिंह, डॉ. मनोज कैन, डॉ. शंभूनाथ दुबे तथा डॉ. सुनील शर्मा को नियुक्त किया गया। इसी के साथ नई कार्यकारिणी में कोषाध्यक्ष की भूमिका डॉ. महेंद्र मीणा निभाएंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *