Saturday, October 31, 2020
Home > राष्ट्रीय > Bihar > प्रधानाध्यापक का करतूत हुआ उजागर

प्रधानाध्यापक का करतूत हुआ उजागर

विवेक चौबे (गढ़वा)  जिले के कांडी प्रखण्ड मुख्यालय स्थित जमा दो के उच्च विद्यालय के प्रधानाध्यापक द्वारा 42 छात्रों से वार्षिक परीक्षा शुल्क लेकर, उन्हें कोई रशीद व प्रवेश पत्र भी उपलब्ध नहीं कराया गया। सभी छात्रों द्वारा सारे दस्तावेज के साथ परीक्षा शुल्क जमा किए गए थे, किन्तु प्रवेश पत्र वितरण के समय पता चला की जिनका जिनका ऑन लाइन कराया गया है, उनका प्रवेश पत्र  उपलब्ध हो रहा है। 42 छात्रों के परीक्षा शुल्क की राशि प्रधानाध्यापक द्वारा ऑनलाइन किया ही नहीं गया। सारी राशि प्रधानाध्यापक डकार गए। गौर तलब है कि सभी 42 छात्र बहुत ही गरीब परिवार से हैं। उनके मां-बाप मजदूरी कर, अपने बच्चों को बड़ी मुश्किल से पढ़ा पा रहे हैं। प्रधानाध्यापक के द्वारा इस प्रकार की करतूत व हरकत से  सभी गरीब बच्चों का एक वर्ष की पढ़ाई व समय दोनों बर्बाद हुआ, जो क्षम्य नहीं है। उक्त सभी विषयों की जानकारी झामुमो नेता- अनवर हुसैन अंसारी ने प्रेस विज्ञप्ति जारी कर दी। उन्होंने उक्त प्रधानाध्यापक को अविलंब विद्यालय से बर्खाश्त करने की अपील की है। साथ ही प्राथमिकी दर्ज कराने व 42 छात्रों के लिए सहानुभूति पूर्वक विचार कर उचित कार्यवाई की मांग की है। आदत सचिव माननीय मुख्यमंत्री, शिक्षा विभाग, उपायुक्त गढ़वा, जिला शिक्षा पदाधिकारी सहित अन्य उच्च अधिकारियों को भी एक-एक प्रतिलिपि प्रेषित किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *