Tuesday, July 7, 2020
Home > राष्ट्रीय > Bihar > बाप ने मोबाइल खरीदने के लिए नहीं दिया पैसा तो बेटे ने लगा ली फांसी

बाप ने मोबाइल खरीदने के लिए नहीं दिया पैसा तो बेटे ने लगा ली फांसी

विवेक चौबे (गढ़वा) गरीबों की मजबूरी उनके पुत्र भी नहीं समझते। हमेशा ही अपनी आवश्यकताओं की चीजों की पूर्ति के लिए अभिभावकों से जिद्द किया करते हैं। बच्चों के द्वारा जिद्द किए जाने से उन्हें कभी-कभी खुद को बड़ा नुकसान उठाना पड़ जाता है। घटना भी कुछ इस प्रकार की है कि एक 20 वर्षीय पुत्र मोबाइल खरीदने के लिए अपने माता-पिता से 12 हजार रुपए मांगने की जिद्द पर अड़ा था। यही जिद्द उसे मौत के मुंह में धकेल कर आत्महत्या करने को विवश कर दिया। हम बात कर रहे हैं, कांडी थाना क्षेत्र अंतर्गत लमारी कला पंचायत के हरिगावां गांव की। उक्त गांव निवासी- महेंद्र तांती का बड़ा पुत्र- सोनू कुमार ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। घटना मंगलवार की शाम तकरीबन 4 बजे की है। घटना की सूचना पाकर मौके पर कांडी पुलिस पहुंची। पुलिस के द्वारा पूछताछ करने पर यह मामला सामने आया की खपड़ैल घर के अंदर कोठे के धरण में साड़ी की मदद से सोनू ने गले में फांसी लगा ली। मृतक के पिता- महेंद्र ने बताया कि मोबाइल खरीदने के लिए सोनू 12 हजार रुपए मांगने की जिद्द पर अड़ा था। मजदूरी कर, दो वक्त की रोटी का जुगाड़ कर, परिवार चलाने वाले 12 हजार रुपए कहाँ से लाए। यह पहाड़ उठाने से कम न था। वहीं कोरोना वायरस को लेकर भुखमरी जैसी समस्या उतपन्न हो गयी है। पुलिस द्वारा मृतक के गले में निशान पाया गया। गले में रोल्ड-गोल्ड का चैन, लाल शर्ट, हरा पैजामा पहना हुआ था। शव को पुलिस द्वारा पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल गढ़वा भेजा गया। वहीं ग्रामीणों के अनुसार सोनू चार माह पूर्व भी कुआं में कूद कर जान देने का प्रयत्न किया था, किन्तु ग्रामीणों ने दौड़ कर, पकड़ कर, समझा-बुझाकर बचाया था। मृतक के लिए यह कोशिश दूसरी बार की गई, जिसमें वह सफल रहा। प्राप्त जानकारी के अनुसार ग्रामीणों ने बताया कि सोनू दो दिनों से भूखा था। शराब पीकर आया व फांसी लगा ली। बता दें कि परिजनों का रो-रो कर बुरा हाल है। मृतक का पिता गरीब, अनपढ़ व दिमाग का कमजोर व्यक्ति है। मौके पर- एएसआई- लालबिहारी रजक, सतीश कुमार महतो सहित अन्य जवान व ग्रामीण उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *