Home > आपका संवाद (Page 5)

आंकड़ों की बाजीग़री से रोजगार सृजन

विश्वजीत राहा (स्वतंत्र टिप्पणीकार) अपने चुनावी वादों को जुमला बनने से रोकने के लिए केन्द्र की मोदी सरकार एक नया तरीका अपनाने का निर्णय लेने के करीब है। दरअसल भाजपा ने 2014 के लोकसभा चुनाव में प्रतिवर्ष 1 करोड़ युवाओं को नौकरी देने का ऐलान किया था। लेकिन अपने कार्यकाल के

Read More

चार दिन की चांदनी वाली देशभक्ति

विश्वजीत राहा (स्वतंत्र टिप्पणीकार) प्रेमचंद की कहानी में पढ़ा था ‘चार दिन की चांदनी फिर अंधेरी रात’। हमारे राष्ट्रीय पर्वों के दो-चार दिन पहले राष्ट्रभक्ति का जो ज्वार चारों ओर उमड़ता है वह काबिल-ए-तारीफ है। लेकिन बिल्कुल प्रेमचंद की कथनी के अनुरूप ही हमारा देशप्रेम साल के कुछेक दिनों तक ही

Read More

आजादी के महान नायक –नेता जी सुभाष चंद्र बोस

लाल बिहारी लाल सुभाष चंद्र बोस का जन्म मशहूर वकील जानकी नाथ बोस के घर 23जनवरी 1897को उड़िसा के कटक शहर में हुआ था।इनकी माता का नाम प्रभावती था। जानकीनाथ के कुल 14 संतान थे। 6 बेटियाँ औऱ 8 बेटे थे। सुभाष उनकी 5वें बेटे और 9वीं संतान थे। सुभाष का अपने

Read More

प्रार्थना पर गैर वाजिब विवाद

विश्वजीत राहा (स्वतंत्र टिप्पणीकार) अभी अभी सुप्रीम कोर्ट ने सिनेमाघरों में राष्ट्र गान अनिवार्य रूप से बजाये जाने के अपने ही आदेश को खारिज ही किया था कि केंद्रीय विद्यालयों में सुबह होने वाली प्रार्थना को लेकर नया विवाद शुरू हो गया है। एक जनहित याचिका दायर कर प्रार्थना के

Read More

प्रदूषण के कारण होने वाले स्वास्थ्य जोखिमों से सुरक्षा के लिए स्वास्थ्य बीमा

रूपम अस्थाना, सीईओ एवं पूर्णकालिक निदेशक, लिबर्टी वीडियोकॉन जनरल इंश्योरेंस कंपनी लिमिटेड प्रदूषण – अगर हम इसे खत्म नहीं करेंगे तो देर-सवेर यह हमें मार डालेगा। प्रदूषण एक वास्तविक समस्या है और हमारे शरीर पर इसका नकारात्मक प्रभाव पड़ना शुरू हो चुका है। प्रदूषण और स्वास्थ्य पर लैन्सेट कमीशन की रिपोर्ट

Read More

2017 रहा भाजपा के नाम

मानव नागर 2017 में कई राज्यों में चुनाव हुए जहाँ भाजपा ने पंजाब को छोड़कर हर राज्य में अपनी सरकार बनाई | कहीं जोड़ तोड़कर कहीं बहुमत से भाजपा ने सरकार बनाई | जनता ने अमित शाह औऱ नरेंद्र मोदी कि जोड़ी को खूब पसंद किया |      शुरुआत से बात

Read More

2017 में जनता रही बे-हाल आ गया नया साल

लाल बिहारी लाल (वरिष्ठ साहित्यकार एवं पत्रकार) 8 नवंबर से नोटबंदी की खुमारी में लोग डूबे ही थे कि धीरे-धीरे 2016 विदा हो गई और नुतनवर्ष 2017 का आगमन हो गया। जनता इससे अभी तक उबर नहीं पाई है।जबकि मोदी जी ने मात्र 50 दिन मांगा था। और आज कई महीने

Read More

राजनीति में ‘थलाइवा’ बन पायेंगे रजनीकांत?

विश्वजीत राहा यूं तो दक्षिण के सिनेमाई स्टार का पर्दे से निकल कर राजनीति में आने का शगल पुराना है। तमिलनाडु के राजनीतिक इतिहास पर नजर डालें तो अब तक तीन फिल्म स्टार मुख्यमंत्री की कुर्सी पर बैठ चुके हैं। इनमें सी एन अन्नादुरई, एम. करुणानिधि, एमजीआर और जयललिता शामिल हैं

Read More

कांग्रेस को मंथन करना जरुरी

मानव नागर कांग्रेस हमारे देश की सबसे पुराना राजनैतिक दल है, कांग्रेस में जितने अनुभवी और ज्ञानी राजनीतिज्ञ है उतने अन्य दलों में नहीं| पर ऐसा लगता है कांग्रेस में राजनीती अन्य दलों की बजाये अपने ही अंदर खेली जा रही है | गुजरात हिमाचल क्यू हारी इसके कारन अनेक हैं,

Read More